12th कॉमर्स के बाद क्या करें, जानें किस फील्ड में बना सकते है करियर

दोस्तो, अक्सर 12th के बाद ज्यादातर स्टूडेंट अपने Career को लेकर कंफ्यूज रहते है। गाइडेंस नही मिलने की वजह से वह ये डिसाइड नही कर पाते कि अब इसके बाद आगे कोनसा कोर्स करे। आज के इस आर्टिकल हम उन स्टूडेंट की बाद करेंगे जिन्होने Commerce से 12th की हैं। अगर आप भी उनमें से एक है तो जिन्होने कॉमर्स से 12वीं कर ली हैं और अब आगे अपने करियर को लेकर कंफ्यूज हैं, तो ये आर्टकल आपके लिए हैं। इसमें हम बताएंगे की कॉमर्स के छात्र 12वीं के बाद आगे अपना करियर बनाने के लिए कौनसे कोर्स में प्रवेश ले सकते हैं।, कौनसा सबसे अच्छा ऑप्शन हैं। तो चलिए आगे बढते हैं और जानते हैं आप कौनसा कोर्स चुन सकते हैं।

Career guide

सबसे ज्यादा पॉपुलर कोर्स

जिन छात्रों ने Commerce में 12th कर ली हैं उनके लिए आर्टस वालों की तुलना में बहुत ज्याता ऑप्शन होते है। ये ज्यादातर Students का सबसे लोकप्रिय स्ट्रिम हैं। इसकी यही वजह हैं कि इसमें ग्रेजुएशन के अलावा भी ढेर सारे ऑप्शन होते है। 12वीं के बाद प्रोफेशनल कोर्स में भी प्रवेश ले सकते हैं। चलिए अब बात करते हैं,12th के बाद चुने जाने वाले कोर्स की।

बैचलर ऑफ कॉमर्स (B.Com)

Commerce छात्रों के लिए सबसे ज्यादा चुना जाने वाला कोर्स Bachelor of Commerce यानि B.Com हैं। बी.कॉम कोर्स भी दो प्रकार का होता हैं। पहला B.Com General होता हैं, जिसमें तीन साल की डिग्री होती हैं, इसके सारे सब्जेक्ट वाणिज्य से जुडे होते हैं यानि इसमे कॉमर्स के सारे विषय पढाए जाते हैं। ये तीन साल का कोर्स होता हैं। जबकि B.Com Honours चार साल का कोर्स होता हैं। इसकी खासियत ये कि इसमें आप एक विषय में विशेष ज्ञान हासिल करके उस विषय के स्पेशलिस्ट बन सकते हैं। इसमें अंतिम वर्ष में एस शोध पत्र भी लिखना होता हैं। बता दे कि ये तो दोनो कोर्स ग्रेजुएशन डिग्री होती हैं।

बैचलर ऑफ बिज़नेस एडमिनिस्ट्रेशन, Bachelor of Business Administration (BBA)

अगर आप मैनेजमैंट में करियर बनाने की सोच रहे हैं आप बैचलर ऑफ बिज़नेस एडमिनिस्ट्रेशन यानि BBA कर सकते हैं। किसी भी मान्यता प्राप्त कॉलेज या यूनिवर्सिटी से कर सकते हैं। कई साले बिजनेस स्कूल इसके लिए प्रवेश परिक्षा भी आयोजित करते है। जिसका पैकेज ज्याता होता हैं। उनकी फीस भी ज्याता होगी हैं। बीबीए को कोर्स कीसी भी स्ट्रिम का स्टूडेंट कर सकता हैं लेकिन कॉमर्स के छात्रों के लिए इसे समझना आसान होता हैं। मैनेजमेंट में करियर बनाने के लिए BBA के अलावा BMC यानि बैचलर ऑफ मैनेजमैंट स्ट्डीज़ में भी प्रवेस ले सकते हैं।

BBA LLB (बीबीए एलएलबी)

अगर आप बिजनेस लॉ या कॉरपोरेट लॉ के फील्ड में अपना कैरियर बनाना चाहते हैं, तो यह कोर्स आपके लिए सबसे अच्छा रहेगा। BBA LLB (Bachelor of Business Administration & Bachelor of Legislative Law) में छात्रों को प्रॉपर्टी लॉ, बिजनेस लॉ, सिविल लॉ, एडमिनस्ट्रेटिव लॉ, फाइनेंशियल एकाउंटिंग, कंप्यूटर एप्लीकेशन, प्रिंसिपल ऑफ मैनेजमेंट, कॉन्स्टिट्यूशनल लॉ, फैमिली लॉ, इफेक्टिव कम्युनिकेशन जैसे विषयों की पढ़ाई करवाई जाती हैं।

चार्टर्ड अकाउंटेंट, Chartered Accountants (CA)

लगभग कॉमर्स के हर स्टूडेंट का सपना होता है कि वह सीए बने। अगर आप भी ग्रेजुएशन नही करके कुछ अलग करना चाहते हैं तो चार्टर्ड अकाउंटेंट यानि सीए बन सकते हैं। सीए बनने के लिए आपको इसके लिए अलग से कोई कोर्स नही करना होता लेकिन इसके अलग-अलग स्टेप में परीक्षा पास करनी होती है। सीए के एग्जाम थोडे मुश्किल होते हैं इसके लिए कोचिंग लेना पड़ता हैं। इसके लिए आपको ‘द इंस्टीट्यूट ऑफ चार्टर्ड अकाउंटेंट्स ऑफ इंडिया’ (ICAI) रजिस्ट्रेशन करना होता हैं। इसके लिए 12वीं के बाद कोई भी छात्र आवेदन कर सकता हैं जिसनें कम से कम 50% नंबर के साथ 12th पास की हो।

CA के लिए अलग-अलग तीन स्टेप में परीक्षा होती हैं। सबसे पहले आपको CPT (Common Proficiency Test) एग्जाम पास करना होता हैं। सीपीटी पास करने के बाद IPCC (Integrated Professional Competence Course) का एग्जाम पास करना होता हैं। आईपीसीसी में पास करने के बाद या इसके साथ में आपको किसी भी सीए के अंडर तीन साल की इंटर्नशिप करनी होती है। इसके बाद CA का फाइनल का एग्जाम दे सकते है।सीए का फाइनल एग्जाम पास करने के बाद आप सीए बन जाते हैं। इसके बाद कई बड़ी कंपनीयों को ऑफर आपको मिलते है। और आप चाहे तो खुद का ऑफिस शुरु कर सकते है।

कंपनी सेक्रेटरी, Company Secretary (CS)

CA के अलावा कॉमर्स के छात्र Company Secretary (CS) के तौर पर भी अपना करियर बना सकते है। यह भी एक प्रोफेशनल कॉर्स हैं। कंपनी सेक्रेटरी या कंपनी सचीव के लिए भी आपके 12वीं मे कम से कम 50% नंबर होने चाहिए। यह कोर्स करने के बाद भी आपके सामने बहुत सारे जॉब के ठेरों ऑप्शन होते हैं। अगर आप सीएस बनना चाहते हैं तो ‘इंस्टीट्यूट ऑफ कंपनी सेक्रेटरीज ऑफ इंडिया’ (ICSI) से डिग्री लेनी होगी। और डिग्री के लिए आपको ICSI के साथ रजिस्ट्रेशन करना होगा।

रजिस्ट्रेशन करने के बाद आपको सीए की तरह इसमे भी तीन अलग-अलग स्टेप में परीक्षा पास करनी होगी। सबसे पहले सीएस फाउंडेशन कार्यक्रम (Foundation Programme) की परीक्षा पास करनी होगी, इसके बाद सीएस कार्यकारी कार्यक्रम (Executive Programme) का एग्जाम पास करना हैं, फिर सीएस व्यावसायिक कार्यक्रम (Professional Programme) पास करना होता है। Professional Programme पास करने के बाद आप कंपनी सेक्रेटरी बन सकते हैं।

इस आर्टिकल में हमने उन्ही कॉर्स के बारे में बताया हैं, जो कॉमर्स की फिल्ड से हैं। इसके अलावा अगर आपकी रुची किसी अलग काम मे हैं तो आप वो भी कर सकते हैं। कॉमर्स से 12वीं करने के बाद आर्टस में भी बहुत से कॉर्स है जिसमें प्रवेश लेकर आप अपना करियर बना सकते हैं। इसके अलावा किसी एक विषय में Short Term ‘Diploma Courses’ भी कर सकते है। ज्यादार कॉलेज अलग-अलग सब्जेक्ट में डिप्लोमा कोर्स करवाते हैं।

प्रोफेशनल डॉक्टर (Doctor)कैसे बने?, क्या हैं योग्यता, जानें सब कुछ

Voice Over क्या हैं, Voice Over Artist कैसे बने?

दोस्तो, आशा करता हूं कि हमारे द्वारा दी गई जानकारी आपके लिए मददगार साबित होगी। अगर आपके मन में किसी प्रकार का कोई सवाल होतो हमें कमेंट करके पूछ सकते है। और अगर किसी प्रकार की जानकारी चाहिए तो कमेंट करके जरुर बताए।

Leave a Reply