WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

Soil Health Card क्या है? जानें कैसे करे ऑनलाइन आवेदन

मृदा स्वास्थ्य कार्ड योजना (Soil Health Card Yojana) फरवरी 2015 में भारत सरकार द्वारा लाई गई थी जिसके तहत सरकार किसानों को एक मृदा कार्ड (Soil Card) जारी करती है। इस कार्ड में खेत की मिट्टी के प्रकार और उसकी गणवत्ता की जानकारी होती हैं। जिससे किसानों को मिट्टी की गुणवत्ता के अनुसार अच्छी फसल प्राप्त करने में मदद मिलेती हैं। फसल के लिए सबसे ज्यादा जरुरी होता है ये जानना कि मिट्टी किस प्रकार की है ताकि ये निर्धारित किया जा सके की इस मिट्टी में कौनसी फसल उगाना उपयुक्त रहेगा। इसके लिए भारत सरकार ने किसानों के लिए यह बार्ड जारी किया हैं।

Soil Health Card का किसानों को क्या फायदा होगा?

भारत में ऐसे बहुत से ऐसे किसान है जो यह नहीं जानते है की अधिकतम उपज प्राप्त करने के लिए किस प्रकार की जमीन पर कौनसी फसल को उगाना चाहिए। उनके लिए सोइल हेल्थ कार्ड स्कीम बहुत ही लाभदायक है। दरअसल किसान मिट्टी के गुणो उसके प्रकार नहीं जानते है वे ये नहीं जानते को कैसे उपजाउ बनाया जा सकता है और किस प्रकार की जमीन से कौनसी पैदावार ज्यादा ली जा सकती हैं। उनके उनकी हेल्प करने के लिए ही सरकार ने साइल हेल्थ कार्ड स्कीम जारी की है। इस योजना के तहत किसानों को एक मृदा हेल्थ कार्ड दिया जायेगा, जिसमे किसानों के जमीन की मिट्टी किस प्रकार की है इसकी जानकारी दी जाएगी। उन्हें एक सूचि दी जाएगी की उनकी जमीन में किस प्रकार की फसल लग सकती है।

मृदा स्वास्थ्य कार्ड योजना की विशेषता

मृदा स्वास्थय कार्ड की विशेषता यह है कि इसके माध्यम से किसान अपने खेत की मिट्टी की गुणवत्ता के बारें में जाने सकेंगे। जब किसान को पता होगा कि उसके खेत की मिट्टी किस प्रकार की हैं तो वह ये डिसाइड कर सकेगा कि उस उसके खेत में कौनसी फसल उगानी हैं। जिससे उसे ज्यादा से ज्यादा पैदावार मिले। और आगर मिट्टी में किसी प्रकार की कोई कमी हैं तो उसे दूर किया जा सकेगा। भारत सरकार देश के सभी किसानों को इस योजना से जोड़ना चाहती हैं। इस योजना के अंतर्गत मृता कार्ड के रुप में किसान को एक रिपोर्ट दी जाएगी। इस रिपोर्ट में पूरी जानकारी होगी। एक खेत के लिए किसान को प्रत्येक तीन साल में यह कार्ड दिया जाएगा।

स्वास्थ्य कार्ड योजना में शामिल कुछ तथ्य

इस योजना के तहत मिट्टी के नमूने /सैंपल का पूरी तरह  से निरक्षण किया जायेगा, पूरी जाँच होने के बाद एक रिपोर्ट तैयार की जाएगी जिसमे ये जानकारी होगी

  • मिट्टी का स्वास्थ्य
  • मिट्टी की कार्यात्मक विशेषताए
  • मिट्टी में पानी और विभिन पोषक तत्वों
  • और यदि मिट्टी में अतिरिक्त गन पाए जाते है तो कार्ड में उसकी अलग से सूचि दी जाएगी
Time Table 2021Admit Card 2021Results 2021

Benefits of Soil Health Card Yojana

  • इस स्कीम के तहत मिट्टी की पूरी तरह से जाँच की जाएगी और और एक रिपोर्ट दी जाएगी जिसमे ये बताया जायेगा की किस फसल को विकसित करना चाहिए और किसे छोड़ देना चाहिए.
  • मृदा स्वास्थ्य कार्ड हर 3 वर्ष में दिया जाता है, जिससे किसान को अपने खेत की मिट्टी के बदलाव के बारे में भी बीच-बीच में पता चलता रहेगा।
  • इस योजना के तहत किसानों को अच्छी फसल उगने में मदद मिलेगी जिससे उन्हें और देश दोनों का फायदा होगा।
  • इससे किसानों को भी आगे बढ़ने का मौका मिलेगा और देश उन्नति की और बढ़ेगा

Please note that the details listed on this page regarding Soil Health Card Yojana, Its Specialty, and Benefits are taken from the other Informative Websites. In Case you have any kind of questions on it then please feel free to ask us through comments.

Questions on Soil Health Card Yojana

Please note that the details listed on this page are just for your reference purposes only. Team OID advised you to cross-check each and every detail from the official Website as well. Onlineinfodesk.com is not an official website and does not ask for any payment for the Application form process. Kindly do not make any payment on any unofficial Website.

Q: Is it a Govt Scheme?

Ans: Yes this is a Govt Sceme.

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *